चाणक्य नीति: चाणक्य के अनुसार ऐसे पुरुष कभी प्यार मे सफल नहीं होते इनसे भूल कर भी संबंध नहीं बनाए

चाणक्य नीति कहती है की ऐसे इंसान पर कभी भरोसा नहीं करना चाहिए जो आपके साथ किसी भी तरह का धोखा कर चुका हो। वैसे तो चाणक्य की कही हर बात सत्य होती है आखिर चाणक्य ऐसे महान आचार्य थे ही। आचार्य चाणक्य के इतनी नीतियाँ है अगर कोई पढ़ ले तो उसको संसार मे हराने वाला कोई नहीं होगा। खैर छोड़िए हम अपने टॉपिक के तरह ध्यान देते है।

» चाणक्य के अनुसार “घमंड” से कितना भी “दिल” के करीब रिश्ता हो टूट जाता है!!!

लोग कहते है प्यार अंधा होता है और ये बात सही भी होता है कि आप किसी ऐसे इंसान के प्यार मे पड़ जाते है जो आपके लिए बना ही ना हो, या वो आपके साथ बस टाइम पास कर रहा हो तो ऐसे इंसान को समय रहते पहचान लेना ही अपना भलाई है।

आचार्य चाणक्य धर्मनीति, कूटनीति और राजनीति के प्रख्यात विद्वान थे इनकी तुलना किसी से नहीं की जा सकती है। इन्होंने अपने ज्ञान के बल पर चन्द्रगुप्त मौर्य को राजा बना दिया। आचार्य चाणक्य ने सिर्फ राजनीति और कूटनीति पर ही अपने विचार को प्रकट नहीं किया उन्होंने सांसारिक बातों को बताया है जैसे स्त्री-पुरुष के गुण व दोष, परिवरिक संकट, किसी शत्रु से कैसे बचे, किसी को युद्ध मे परास्त कैसे करे। पर हम आज के टॉपिक मे पुरुष के प्रेम संबंधों के बारे मे जानेंगे जो कि आचार्य चाणक्य ने कहा है।

» चाणक्य नीति: स्त्री सुंदर हो और ये गुण उसमें हो तो ऐसे स्त्री से शादी नहीं करना चाहिए

पराई स्त्री पर बुरी नजर डालने वाला

ऐसे पुरुष जो अपनी प्रेमिका या पत्नी के होते हुए दूसरे पराई स्त्री पर काम के वासना से नजर डाले ऐसे पुरुषों को स्त्रीयो को अपना जीवनसाथी नहीं चुनना चाहिए। ये आपको कभी भी पराई स्त्री के लिए छोड़ सकते है।

जो कभी स्त्री का सम्मान नहीं करे

ऐसे पुरुष जो स्त्री का सम्मान नहीं करते है उनको अपने पैर की जूता समझते है तो ऐसे पुरुषों से बच्च के रहना चाहिए और कभी भी दोस्ती नहीं करना चाहिए अगर आपके पास ऐसा कोई दोस्त है तो जल्दी से उससे किनारा बना ले।

शारीरिक सुख लेने वाले इंसान

स्त्रियों को अपने पति का चुनाव करने से पहले से पुरुष के बारे मे इन सभी बातों को ज्ञात कर लेना चाहिए। अगर कोई पुरुष स्त्री के साथ सोने की इच्छा से उसके साथ रहना पसंद करता है और आपके परेशानियों मे साथ नहीं देता तो जल्दी से ऐसे लोगों से किनारा बना ले। नहीं तो ऐसे पुरुष गले का फांस बन जाते है।

विपत्ति मे धकेलना वाला पुरुष

स्त्री का हृदय कोमल होता है वो पुरुष को अच्छे से समझ नहीं पाती कि किस प्रवृती का इंसान है। परंतु किसी भी हाल मे ऐसे पुरुषों से बच के रहना चाहिए उनको अपना दोस्त या हमसफ़र नहीं बनने देना चाहिए जो आपको विपत्ति मे फेकते हो।

Leave a Comment