Skip to content
Home » (Lekhpal) लेखपाल कैसे बनते है? भर्ती योग्यता, परीक्षा, सैलरी, कार्य

(Lekhpal) लेखपाल कैसे बनते है? भर्ती योग्यता, परीक्षा, सैलरी, कार्य

lekhpal kaise bane

(Lekhpal) लेखपाल कैसे बनते है? | लेखपाल भर्ती योग्यता, परीक्षा, सैलरी, कार्य | Lekhpal Kaise banate hai | lekhpal kaise bane in hindi | लेखपाल क्या होता है?

दोस्तों आज के टॉपिक मे हम लेखपाल कैसे बनते है? इसके बारे मे जानेंगे। लेखपाल जिसको ज्यादातर लोग गांवों मे पटवारी के नाम से जानते है।

लेखपाल का कार्य गाँव मे ज्यादा होता है। क्योंकि जमीन की खरीदी बिक्री का पूरा हिसाब यही रखते है। आय, जाति, निवास जैसे अन्य ऐसे सभी प्रमाण पत्र को लेखपाल ही बनाते है।

कार्य के हिसाब से लेखपाल दो प्रकार के माने जाते है। एक चकबंदी लेखपाल तथा दूसरा राजस्व लेखपाल दोनों ही तरह के लेखपाल के लिए परीक्षा के साथ इंटरव्यू भी देना पड़ता है।

यह भी पढे:- डिस्टेंस लर्निंग क्या होता है? डिस्टेंस लर्निंग से ग्रेजुएशन कैसे करे?

लेखपाल क्या होता है? Lekhpal Kaise Bane?

लेखपाल हर राज्य के राज्य-स्तरीय स्तर पर राजस्व विभाग (Revenue Department) द्वारा नियुक्त किया गया सरकारी कर्मचारी होता है। जिसका कार्य गाँव मे होता है। गाँव के जमीन का लेखा जोखा का हिसाब रखना होता है। इसके साथ ही किसके नाम पर कौन सी जमीन है, कितनी जमीन है, इन सभी ब्योरा का लिखित प्रमाण भी रखता है।

लेखपाल का कार्य अपने चुने हुए ब्लॉक या गाँव मे लोगों का जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र व निवास प्रमाण पत्र बनाना होता है। तथा इन सबका एक कम्प्लीट दस्तावेज अपने पास रखता है।

गाँव मे कहाँ किसकी कितनी जमीन है, इन सभी का दस्तावेज के साथ जानकारी रखता है। ब्लॉक मे कहाँ आवासीय प्लॉट या मकान है कहाँ कब्जे का क्षेत्र है, कहाँ सरकारी जमीन है, सब जमीन की जानकारी लेखपाल रखता है।

लेखपाल को कई नामों के द्वारा जाना जाता है जैसे पटवारी, पटेल, कारनाम अधिकारी, शानबोगरु आदि।

यह भी पढे:- ANM का कोर्स कैसे करे? ANM करके नर्स बनने की पूरी जानकारी

लेखपाल नियुक्त करने के फायदे – Lekhpal Niyukt karne ke Fayde

सरकार द्वारा किसी ब्लॉक या गाँव मे लेखपाल को नियुक्त करने से कई तरह के फायदे है।

  • एक तो लेखपाल पूरे गाँव के जमीन का हिसाब रखता है।
  • लेखपाल अपने क्षेत्र के सरकारी जमीन और पब्लिक जमीन का ब्योरा रखता है।
  • सरकार द्वारा जीतने भी किसानों के लिए स्कीम लाया जाता है उसमे लेखपाल की बड़ी हिस्सेदारी होती है। स्कीम कितने किसानों को देना है इसकी गिनती लेखपाल के पास होता है।
  • गाँव मे कितने किसान है यह भी लेखपाल जानता है। गाँव मे कितनी जमीन खेती के लायक है किस फसल की ज्यादा पैदावार होती है। इसका भी लेखा लेखपाल के पास होता है।
  • गाँव मे सभी लोगों का आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र भी लेखपाल बनाता है।
  • गाँव मे जब बाढ़ आता है तब कितना फसल डूब गया है। कितना जमिनो को नुकसान होता है यह भी लेखा सरकार को लेखपाल देता है।
  • किसी व्यक्ति को जमीन का बेचना है तब वो लेखपाल के द्वारा ही जांच के ही बेच जाता है।
  • लेखपाल अपने क्षेत्र के व्यवसायिक जमीनो टैक्स कलेक्टर भी होता है।
  • गाँव मे कितने मवेशी है। मवेशी मे कितने गाय, भैंस और बकरी है। इन सबका लिखित गिनती लेखपाल रखता है।

यह भी पढे:- GNM का कोर्स कैसे करे? GNM करके नर्स कैसे बने पूरी जानकारी

लेखपाल बनने के लिए योग्यता – Lekhpal Banne ke liye Bharti yogyta – Eligibility for Lekhpal

लेखपाल की परीक्षा का आवेदन करने के लिए आवेदक को किसी भी स्ट्रीम से 12वीं मे अच्छे अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए। NIELIT द्वारा CCC का प्रमाण पत्र होना चाहिए। CCC परीक्षा का प्रमाण पत्र नहीं है, तो कोई भी कंप्युटर कोर्स जिसको 6 महीने मे पूरा किया गया हो साथ ही इस कोर्स का डिग्री होना चाहिए।

  • कैंडीडेट भारतीय होना चाहिए
  • आवेदक की उम्र 18 से 40 वर्ष होना चाहिए।
  • इन्टरमीडिएट मे अच्छे अंकों के साथ परीक्षा उत्तीर्ण किया हो।
  • छात्र के पास CCC या कंप्युटर डिप्लोमा का डिग्री भी होना चाहिए।
  • मिनिमम परसेंटेज की कोई सीमा नहीं होती है।
  • आरक्षित जाति के हो तो राज्य के नियमानुसार छूट प्रदान किया जाएगा।

यह भी पढे:- राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान सस्थान के बारे मे पूरी जानकारी

लेखपाल भर्ती परीक्षा पैटर्न – UPSSSC LEKHPAL WRITTEN EXAMINATION PATTERN

विषय (Subject)प्रश्नों की संख्या (No. of Questions)कुल अंक (Total Marks)
सामान्य ज्ञान (General knowledge)2525
गणित (Mathmatics)2525
सामान्य हिंदी
(General Hindi)
25 25
ग्रामीण समाज और ग्रामीण विकास
(Village Society & Development)
2525
Total100 100

कुल 90 मिनट मे 100 प्रश्नों को हल करना पड़ता है। परीक्षा मे कोई माइनस मार्किंग नहीं होती है। परीक्षा मे हिन्दी, सामाजिक विज्ञान, समाज से जुड़े प्रश्न, सामान्य ज्ञान, मैथ और ग्राम विकास से जुड़े प्रश्न को पुछा जाता है।

हिन्दी विषय मे व्याकरण से संबंधित प्रश्न होते है जैसे संधि, समास, अलंकार, संज्ञा, सर्वनाम, पर्यायवाची, मुहावरे, लोकोक्तियाँ, तत्सम, तद्भव, विशेषण आदि प्रश्न पूछे जाते है।

गणित विषय मे सात, आठ, नौ, दस, ग्यारह और बारह कक्षा के गणित विषय से जुड़े प्रश्न पूछे जाते है। जिसमे लाभ, हानी, मिश्र संख्या, प्रतिशत संख्या, पैमाना, एरिया, रूट, एलसीएम और एचसीएफ जैसे प्रश्न पूछे जाते है। इसके साथ जमीन का पैमाना, नापने का सही पैमाना, एकड़, बीघा, डिस्मिल जैसे प्रश्न होते है। रेखागणित और अंकगणित के सभी प्रश्न होते है।

सामान्य ज्ञान विषय मे देश और संसार से जुड़े सामान्य प्रश्न पूछे जाते है। जनरल नालिज के प्रश्न होते है। देश और राज्य के उपजाऊ जमीन, धान के जमीन, गेहूं की जमीन, गन्ने के जमीन से संबंधित प्रश्न रहते है।

ग्राम समाज और ग्रामीण विकास विषय मे गाँव के रहन सहन, जमीनो का विस्तार, गाँव मे विकास कैसे करे, समाज के हित मे नाली सड़क के बारे मे, ग्रामीण योजनाएं से जुड़े प्रश्न को लिखना होता है।

यह भी पढे:- CO का फूल फॉर्म

लेखपाल की परीक्षा देने के लिए आवेदन कैसे करे? How to Online apply for Up Lekhpal exam

उत्तर प्रदेश के परीक्षार्थी को लेखपाल का फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले UPSSSC के ऑफिसियल साइट पर आना होगा। UPSSSC एक सरकारी साइट है जिसका मतलब उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग होता है। यह लेखपाल बनने वाले छात्रों को सरकारी लिंक प्रवाइड करता है।

  • सरकार के द्वारा लेखपाल मे भर्ती के लिए एक बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को चालू कर दिया गया है। इससे ये फायदा है कि आवेदक को सिर्फ एक ही बार ईमेल व मोबाईल नंबर से रजिस्ट्रेशन करना है। इसके बाद जब भी आवेदक परीक्षा के लिए पूरा फॉर्म भरेगा तब उसे रजिस्ट्रेशन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • लेखपाल का फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले आपको UPSSSC के ऑफिशियल वेबसाईट http://upsssc.gov.in/ पर चले जाना है।
  • यहाँ पर रजिस्ट्रेशन के लिंक e-priksha पर क्लिक करके सबसे पहले रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा करना है।
  • फिर जो भी पासवर्ड और ईमेल मिलेगा उससे लॉगिन पेज पर क्लिक करके लॉगिन कर लेना है।
  • लॉगिन के पश्चात आपके डीटेल भरने को कहेगा डीटेल मे आपका नाम, आपका पता, आपकी पेरेंट्स का नाम, आधार कार्ड नंबर, ऐसे ही जरूरी दस्तावेजों को भर देना है।
  • और सब कुछ सबमिट कर देना है।

यह भी पढे:- एनआईडी कोर्स कैसे करे पूरी जानकारी हिन्दी मे

लेखपाल की सैलरी कितनी होती है – Lekhpal ki salary kitni hoti hai

लेखपाल की नौकरी ग्रैड सी की होती है। इसीलिए ज्यादा वेतन नहीं मिलता है। 5200-20200 ग्रैड पे के अनुसार दिया जाता है। लेखपाल एक क्लेरिकल पोस्ट है। यह ग्रुप सी के अंतर्गत आता है। इसमे ज्यादा सैलरी नहीं होता है। परंतु जॉब के अनुसार यह एक सरकारी नौकरी है जिसमे सरकारी सिक्युरिटी होती है।

वेतन के साथ वो सभी फायदे लेखपाल को दिए जाते है। जो एक सरकारी नौकरी पेशा वाले को दिया जाता है। यह एक डिमांड वाला नौकरी है। देश मे लोग इस नौकरी को पाने के लिए जी जान लगा देते है। यह नौकरी जिसको मिल जाती है वो जीवनभर आराम की जिंदगी जीता है।

यह भी पढे:- नीट का परीक्षा क्या है? नीट का परीक्षा कैसे देते है?

निष्कर्ष

लेखपाल कैसे बने? इससे जुड़े परीक्षा, सिलेब्स सब बताए गए है। लेखपाल का सैलरी कितना होता है? यह भी जानकारी दिया गया है।

Exit mobile version